न कड़वी निंबोली, न खजूर जैसी दूरी, फिर भी मिले नहीं सिन्नी जैसी खिन्नी

यह प्रकृति का आश्चर्य ही है कि विशाल वृक्ष में नीम की निबोली से दिखाई देने वाले छोटे पीले फल लगते हैं। दूर से देखने पर लगता है जैसे ‘बूंदी’ (एक मिठाई) बेची जा रही है। स्थानीय बोली में बूंदी को ‘सिन्नी’ भी कहते हैं। सो बेचने वाले ‘सिन्नी जैसी मीठी खिन्नी’ ले लो की आवाज लगाकर इसे बेचते हैं।

जारी

व्‍हाइट स्‍टॉर्क से पूछ ही लिया, लिपिस्टिक लगाए हो?

ताल और पहाड़ियों के शहर भोपाल की खूबसूरती यहां के पंछियों से भी है। बीते दिनों भोज वेटलैंड मे व्हाइट स्टार्क या श्वेत राजबक के भी दर्शन हो ही गए। भोपाल मे इसका दिखना दुर्लभ है।

जारी

अपनी फितरत से जो है जंगल का कोतवाल

चमकीले काले रंग का ब्लैक ड्रोंगो पंछियों की दुनिया का आक्रामक पक्षी है। इसकी निडरता, हौसला और आक्रामकता के कारण इसे जंगल का कोतवाल कहा जाता है।

जारी